THEMES

LIFE (53) LOVE (29) IRONY (26) INSPIRATIONAL (10) FRIENDSHIP (7) NATURE (3)

Saturday, June 22, 2019

जब कोई हाल पूछता है
















इन दिनों जब कोई 
हाल पूछता है, 
चुभता है, क्यों ये 
सवाल पूछता है 

झूठ ही कह भी दो,
कुशलता चाहे 
लगता है मानो, 
'क्यों है' पूछता है 

ऑनलाइन हर कोई
खुशहाल ही दिखा, 
झाँका ज़िन्दगी में 
हर शख्स झुझता है 

मैं मेरे 'मैं' में रहूँ, 
तुम अपने 'मैं' में रहो, 
बुलबुला 'हम' का 
उछलता है, फूटता है

राय से पेट भरता अगर, 
लंगर ही लगवा देते
बिन मांगे बँट रही, 
कौन पूछता है  

अपनत्व का विज्ञापन 
आकर्षित कर सकता है, 
जाले नजरों में हो
कम सूझता है

इन दिनों जब कोई
हाल पूछता है
चुभता है, क्यों ये 
सवाल पूछता है 

2 comments:

Unknown said...

Very nice

Pratiksha Bhatt said...

Sadly true! Well written!

Post a Comment

Your comments/remarks and suggestions are Welcome...
Thanks for the visit :-)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...