THEMES

LIFE (52) LOVE (28) IRONY (25) INSPIRATIONAL (9) FRIENDSHIP (7) NATURE (3)

Friday, March 23, 2012

ना खुद सोये, ना सपनों को सोने दिया..














ना खुद सोये, ना सपनों को सोने दिया 
कुछ कर दिया, बाकि बस होने दिया..... 

मंजिलें इंतज़ार करती होंगी हमारा 
इस सोच ने चलाया, बस बढ़ने दिया 

अनजान रास्ते नुकीले, टेढ़े मेढ़े से 
दृढ हौसलों ने हरदम, बस चलने दिया 

रुके भी, थके भी, अलसाए थोडा बहुत 
ख्याल उलझे कभी तो, बस उलझने दिया 

की जागना जरुरी है, जगाने के लिए 
यही तो कहना था हमे, बस कह दिया  

ना खुद सोये, ना सपनों को सोने दिया 

Thursday, March 15, 2012

पुनरावर्तन...A Photo Poetry

फसबूक पर एक NGO के पेज पे ये तस्वीर मिली, जिसे एक मित्र ने LIKE किया और ये मुझे द्रश्यमान हुई....सन्देश बहुत तगड़ा था 
I salute this mother, she knows the value of education even though she lives below poverty line! Support people who live with hopes to educate & achieve big in this world!  


बस फिर कुछ मैंने भी लिख दिया, आप भी पढ़िए....और हाँ अपनी संतानों को पढ़िये जरूर... हो सके तो किसी को पढने में यथासंभव मदद भी कीजिये....



देखी ना मैंने कभी, 
किताबों की हलचल
ना बस्ते, ना घंटियाँ
ना परीक्षा-परिणामों की कुतूहल

संघर्ष में ही बीता जीवन
कठिनाइयाँ रही हर पल, हरदम
कभी भूखे सोये, कभी थोडा भोजन
इन्ही रास्तों पे कटी जवानी व् बचपन

हालत कुछ आज भी वैसे ही है
पर नहीं होने दूँगी मेरे जैसा 'पुनरावर्तन'
पढ़ाऊगी तुझे मैं
जीते-जी पुरे दम-ख़म
चाहे करना पढ़े लाख श्रम
ना पीछे हटूंगी ये मेरा दृढ मन

शिक्षित तू होगी
होगा स्वप्न पूरा
की हमारा भी होगा
ये जीवन कभी मधुबन....



पहली बार तश्वीर देख कर कविता लिखने का प्रयोग किया है...

Saturday, March 3, 2012

वो कुछ पल जो तेरे साथ बीते हैं...

वो कुछ पल जो तेरे साथ बीते हैं
आज भी बस हम उन्ही में जीते हैं
ख्यालों में कितनी रहती है अमीरी 
कलम पीने लगी, जाम लिखते हैं 

शरारतें, वो मस्ती, रूठना - मनाना
बेमतलब थोड़े फूले- फूले से रहते हैं   
धडकनें बढ़ी, कभी सांसें थम ही गई 
अदाओं में तेरी,  तीखे सलीके हैं 

खामोशियों में अक्सर होती बातें 
बिना कहे ही, काफी कुछ सुनते हैं 
होठ जब कभी तेरे, लेते हैं अंगड़ाई 
नज़रें गडी सी उनपर, बेचैन रहते हैं 

वो कुछ पल जो तेरे साथ बीते हैं
आज भी बस हम उन्ही में जीते हैं...

Image Courtesy: Ms.Shambhavi Upadhyay
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...