THEMES

LIFE (52) LOVE (29) IRONY (25) INSPIRATIONAL (10) FRIENDSHIP (7) NATURE (3)

Saturday, September 22, 2012

कमबख्त नौकरी, जीवन की एक मज़बूरी












ये ऊँची फंडू बातों में, कडवी तीखी सच्चाई 
मुख पर होती तारीफें, पीछे से खूब खिंचाई 

चापलूसी, चमचागिरी, कहीं हुस्न पे झुकाव 
अँधा भरोसा कहीं पर, कहीं हर बात में टकराव 

कहीं इर्ष्या, कहीं जलन, आपस में खिंचा-तानी 
राजनीति, कूटनीति, और साथ मिले बेईमानी 

जिक्र तनखा का हो, वो चुनावी लुभाते वादे
प्रमोसन में बरसों, इन्क्रीमेंट चंदों से आते 

ये रोज नये से टार्गेट, साहब की जी-हुजूरी 
कमबख्त नौकरी, जीवन की एक मज़बूरी


 Theme Suggested By: Mr. Rahul Mehta

12 comments:

Kavita Rawat said...

kuch na kuch to karna hi padta hai jeene ke liye ..
bahut badiya rachna..

मेरा मन पंछी सा said...

एकदम सही कहा है आपने
सभी की मन की बाते है ये
बेहतरीन रचना...
:-)

S.N SHUKLA said...


इस सार्थक पोस्ट के लिए बधाई स्वीकारें.
कृपया मेरे ब्लॉग पर भी पधारें , अपना स्नेह प्रदान करें.

विकास गुप्ता said...

सच्ची बात कहीं आपने ।

Shashank said...

Every line is true... Nice One... :)

संजय भास्‍कर said...

Ekdam sahi kha aapne

prachi said...

very true..

Anonymous said...

सबसे पहले हमारे ब्लॉग 'जज्बात....दिल से दिल तक' पर आपकी टिप्पणी का तहेदिल से शुक्रिया.........आज पहली बार आपके ब्लॉग पर आना हुआ...........पहली ही पोस्ट बहुत पसंद आई.......बहुत खूब...........आज ही आपको फॉलो कर रहा हूँ ताकि आगे भी साथ बना रहे|

कभी फुर्सत में हमारे ब्लॉग पर भी आयिए- (अरे हाँ भई, सन्डे को भी)

http://jazbaattheemotions.blogspot.in/
http://mirzagalibatribute.blogspot.in/
http://khaleelzibran.blogspot.in/
http://qalamkasipahi.blogspot.in/

एक गुज़ारिश है ...... अगर आपको कोई ब्लॉग पसंद आया हो तो कृपया उसे फॉलो करके उत्साह बढ़ाये|

vishwa.... said...

sahi hai....

Anupama Tripathi said...

man ke bhav sundarata se prakat kiye ...!!

Mini said...

aaj ki sabse badi n kadvi sacchai.........

पंछी said...

mostly servicemen se yahi suna hai :p nice expression of thoughts

Post a Comment

Your comments/remarks and suggestions are Welcome...
Thanks for the visit :-)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...